UPPSC Staff Nurse Previous Year Paper PDF in Hindi Download

UPPSC Staff Nurse Previous Year Paper: हाल ही में UPPSC उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने स्टाफ नर्स सिस्टर ग्रेड II पुरुष और महिला उम्मीदवारों के लिए अपने ऑफिसियल वेबसाइट पर Requirement जारी किया है। इच्छुक और योग्य उम्मीदवार ऑनलाइन जाकर फॉर्म भर सकते हैं। इच्छुक और योग्य उम्मीदवारों के एग्जाम की तैयारी को एक दिशा देने के लिए हम इस लेख में UPPSC Staff Nurse Exam के लिए Study Material लेकर आए हैं आप इस वेबसाइट से एक जगह से सभी Study Material Download कर सकते हैं।

UPPSC Staff Nurse Previous Year Paper

UPPSC Staff Nurse Previous Year Paper PDF In Hindi

आप इस वेबसाइट से UPPSC Staff Nurse का Official Previous Year Paper Download कर इसे Solve करने का प्रयत्न करें। ऐसा करने से आप एग्जाम में पूछे जाने वाले विभिन्न प्रश्नों को हल करके आत्मविश्वाश को बढ़ाने के साथ-साथ परीक्षा में समग्र प्रदर्शन में सुधार ला सकते हैं। इतना ही नहीं बल्कि आप इस Question Paper को Solve कर Exam में पूछा जाने वाले प्रश्नों का कठनाई स्तर का पता लगा सकते है और उनमें समय रहित सुधार भी कर सकते हैं।

UPPSC Staff Nurse Syllabus 2021 In Hindi

UPSSC Staff Nurse का Exam दो चरणों में पूरा किया जाता है पहला लिखित और दूसरा दस्तावेज सत्यापन। UPPSC Staff Nurse के लिखित परीक्षा में मुख्य तीन विषय से प्रश्न पूछे जाते है Main Subject Nursing, General Hindi, और General Knowledge. आप इन सिलेबस के अनुसार तैयारी अभी से ही शुरू कर दें। नीचे इन विषय के सभी टॉपिक के बारे में बताया गया है। आप एग्जाम सभी प्रश्नों का उत्तर तभी दे सकते है जब आप इन Syllabus को कर पाएंगे। इसलिए इन सिलेबस को डाउनलोड इनकी बारीकी से अध्ययन करें।

UPPSC Staff Nurse Exam Pattern 2021

UPPSC Staff Nurse के एग्जाम में बहुविकल्पीय वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछा जाता है और इस एग्जाम में Negative Marking नहीं होता है। UPPSC Staff Nurse के Exam सामान्य ज्ञान से 30 प्रश्न, मुख्य विषय नर्सिंग 120 प्रश्न और सामान्य हिंदी से 20 प्रश्न पूछा जाता है। कुल तीन विषय से 170 प्रश्न 85 अंक का पूछा जाता है और इस एग्जाम की समय अवधि 120 मिनट की होती है। यह एग्जाम हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषा में लिया जाता है। इस एग्जाम पैटर्न को अच्छे से समझने के लिए नीचे बनाया गया है।

तो चलिए अब बिना समय गवाए UPPSC Staff Nurse Previous Year Paper डाउनलोड करते है तथा Syllabus और Exam Pattern के बारे और अध्ययन करते हैं।

UPPSC Staff Nurse Previous Year Paper PDF in Hindi/English Download

UPPSC Staff Nurse Syllabus 2021 in Hindi

  • General Hindi: तत्सम एवं तद्भव, देशज, विदेशी (शब्द भंडार), शब्द रचना, वाक्य रचना, अर्थ, शब्द-रूप, हिंदी वर्णमाला, विराम चिन्ह, पर्यायवाची शब्द, मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ, संधि, समास, क्रियाएँ, अनेकार्थी शब्द, विलोम शब्द,
  • General Knowledge: भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन:- भारत के इतिहास में भारतीय इतिहास के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक पहलुओं की व्यापक समझ पर जोर दिया जाना चाहिए। भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन में, उम्मीदवारों से अपेक्षा की जाती है कि वे स्वतंत्रता आंदोलन, राष्ट्रवाद की वृद्धि और स्वतंत्रता की प्राप्ति के बारे में एक संक्षिप्त दृष्टिकोण रखते हैं।
  • भारतीय और विश्व भूगोल- भारत और विश्व का भौतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल: – भारत के भूगोल पर प्रश्न भारत के भौतिक, सामाजिक और आर्थिक भूगोल से संबंधित होंगे। विश्व भूगोल में विषय की सामान्य समझ की ही अपेक्षा की जाएगी।
  • भारतीय राजनीति और शासन, संविधान, राजनीतिक व्यवस्था, पंचायती राज और सार्वजनिक नीति, अधिकार – मुद्दे आदि: – भारतीय राजनीति और शासन में प्रश्न देश के संविधान, पंचायती राज और सामुदायिक विकास सहित राजनीतिक व्यवस्था के ज्ञान का परीक्षण करेंगे।
  • भारतीय अर्थव्यवस्था और सामाजिक विकास: – उम्मीदवारों की समस्याओं और जनसंख्या, पर्यावरण, शहरीकरण के बीच संबंधों के संबंध में परीक्षण किया जाएगा; भारत और भारतीय संस्कृति में आर्थिक नीति की व्यापक विशेषताएं।
  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएँ:- इसमें खेल और खेल से संबंधित प्रश्न भी शामिल होंगे।
  • भारतीय कृषि: – उम्मीदवारों से भारत में कृषि, कृषि उपज और उसके विपणन की सामान्य समझ होने की उम्मीद की जाएगी।
  • सामान्य विज्ञान: – सामान्य विज्ञान के प्रश्नों में विज्ञान की सामान्य समझ और समझ को शामिल किया जाएगा, जिसमें रोजमर्रा के अवलोकन और अनुभव के मामले शामिल हैं, जैसा कि एक शिक्षित व्यक्ति से उम्मीद की जा सकती है, जिसने किसी वैज्ञानिक विषय का विशेष अध्ययन नहीं किया है। इसमें भारत के विकास में विज्ञान और प्रौद्योगिकी की भूमिका पर भी प्रश्न शामिल होंगे।
  • 10वीं कक्षा तक प्रारंभिक गणित:- अंकगणित, बीजगणित और ज्यामिति। नोट:- अभ्यर्थियों से अपेक्षा की जाती है कि वे यू.पी. के विशेष संदर्भ में उपरोक्त विषयों के बारे में सामान्य जागरूकता रखें।
  • Nursing: एनाटॉमी एंड फिजियोलॉजी: स्केलेटल सिस्टम, मस्कुलर सिस्टम, कार्डियो-वैस्कुलर सिस्टम, रेस्पिरेटरी सिस्टम, डाइजेस्टिव सिस्टम, एक्सट्रीटरी सिस्टम, नर्वस सिस्टम, एंडोक्राइन सिस्टम, रिप्रोडक्टिव सिस्टम और सेंस ऑर्गन्स।
  • नर्सिंग के मूल सिद्धांत: एक पेशे के रूप में नर्सिंग, चिकित्सीय वातावरण का रखरखाव, नर्सिंग प्रक्रिया और नर्सिंग देखभाल योजना, एक रोगी का प्रवेश और निर्वहन, मरने वाले रोगी, स्वच्छ आवश्यकताओं और शारीरिक आवश्यकताओं, गतिविधि और व्यायाम, सुरक्षा की जरूरत, उन्मूलन की जरूरत, देखभाल और विशेष स्थिति, पोषण संबंधी जरूरतों को पूरा करना, रोगी का अवलोकन, उपकरणों की देखभाल, बैरियर नर्सिंग, दवाओं का प्रशासन, रिकॉर्डिंग और रिपोर्टिंग।
  • प्राथमिक चिकित्सा: प्राथमिक चिकित्सा का अर्थ और नियम आपातकालीन स्थिति जैसे आग; भूकंप; अकाल; फ्रैक्चर; दुर्घटना; जहर; डूबता हुआ; रक्तस्राव; कीड़े काटता है; विदेशी निकाय घायलों का परिवहन, पट्टी बांधना और पट्टी बांधना, नर्स की तत्काल और बाद की भूमिका
  • मेडिकल सर्जिकल नर्सिंग: मेडिकल और सर्जिकल सेटिंग में नर्स की भूमिका और जिम्मेदारियां। सर्जिकल रोगी की देखभाल, एनेस्थीसिया। कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम, गैस्ट्रो इंटेस्टाइनल सिस्टम, जेनिटो यूरिनरी सिस्टम और नर्वस सिस्टम के रोग। श्वसन प्रणाली के विकार और रोग, मस्कुलो-कंकाल प्रणाली। रक्त विकार और रक्त आधान।
  • एंडोक्राइन सिस्टम, मेटाबोलिक विकार, कमी रोग: हाइपर और हाइपो स्राव, सिस्ट / ट्यूमर, डायबिटीज मेलिटस, मोटापा गाउट। त्वचा, कान, नाक और गले के रोग। नेत्र रोग और विकार, गहन देखभाल नर्सिंग। सामान्य कमी रोग, भारत में व्यापकता, प्रारंभिक लक्षण, रोकथाम और उपचार। संचारी रोग: वायरस, बैक्टीरिया, जूनोज और मच्छर।
  • मनोरोग नर्सिंग: परिचय, सामुदायिक जिम्मेदारी, निदान, प्रबंधन और नर्स की भूमिका।
  • सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग: अवधारणा, सामुदायिक स्वास्थ्य की परिभाषा, के बीच अंतर: – संस्थागत और सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग, सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग के गुण और कार्य, सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग के पहलू, जनसांख्यिकी और परिवार कल्याण। स्वास्थ्य दल: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी), प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) में संरचना; उपकेंद्र।
  • विभिन्न स्तरों पर नर्सिंग कर्मियों की भूमिका: पुरुष और महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता, स्वास्थ्य पर्यवेक्षक, सार्वजनिक स्वास्थ्य नर्स, सार्वजनिक स्वास्थ्य पर्यवेक्षक, महत्वपूर्ण स्वास्थ्य सांख्यिकी। स्वास्थ्य शिक्षा और संचार कौशल।
  • मिडवाइफरी और गायनोकोलॉजिकल नर्सिंग: परिचय और परिभाषा, सामान्य गर्भावस्था, प्रसव पूर्व देखभाल, गर्भावस्था में आहार के संबंध में देखभाल और सलाह, प्रसवपूर्व व्यायाम, गर्भावस्था के मामूली विकार और परेशानी का उन्मूलन, गर्भावस्था से जुड़े रोग सामान्य प्रसव की तैयारी: सामान्य श्रम – प्रसव का पहला चरण, दूसरा चरण और तीसरा चरण, शिशु और जन्म का नर्सिंग प्रबंधन, प्रसव के दौरान मां का नर्सिंग प्रबंधन, गर्भावस्था की जटिलता और इसका प्रबंधन, उच्च जोखिम वाली गर्भावस्था और इसका प्रबंधन, प्रसव संबंधी जटिलताएं, प्रसव की जटिलताएं और इसका प्रबंधन, प्रसूति संचालन, प्रसूति में प्रयुक्त दवाएं, दाई और स्त्री रोग संबंधी नर्सिंग से संबंधित नैतिक और कानूनी पहलू, प्रजनन क्षमता और बांझपन रोग और स्तनों सहित महिला प्रजनन प्रणाली के विकार।
  • बाल चिकित्सा नर्सिंग: बाल स्वास्थ्य देखभाल में अवधारणा और बाल देखभाल में बाल चिकित्सा नर्स की भूमिका, स्वस्थ बच्चा, शिशु, शिशु विकार, जन्मजात विसंगतियों की पहचान और प्रबंधन, स्तनपान, ठोस पदार्थों का परिचय, पूर्व और बाद की देखभाल और तैयारी नवजात शिशु की सर्जरी के लिए माता-पिता। बच्चों के रोग: एटियलजि, संकेत और लक्षण, चिकित्सा और शल्य चिकित्सा प्रबंधन, नर्सिंग देखभाल, जटिलता, आहार और दवा चिकित्सा, रोकथाम और रोगों के साथ उपचार – जठरांत्र प्रणाली, श्वसन प्रणाली, Gento- मूत्र प्रणाली, हृदय संवहनी प्रणाली, तंत्रिका तंत्र, आंख और कान, पोषण संबंधी विकार, संचारी रोग, रक्त संबंधी विकार, अंतःस्रावी विकार बाल स्वास्थ्य आपात स्थिति, मनोवैज्ञानिक विकार समस्याएं और विकलांग बच्चा।
  • पेशेवर रुझान और समायोजन: नर्सिंग पेशे की परिभाषा और मानदंड, एक पेशेवर नर्स की योग्यता, व्यक्तिगत व्यावसायिक विकास और नर्सिंग में सतत शिक्षा कैरियर, पेशेवर संबंधित संगठन: इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्स (आईसीएन), इंडियन नर्सिंग काउंसिल (आईएनसी), स्टेट नर्सिंग काउंसिल , विश्व स्वास्थ्य संगठन, यूनिसेफ, प्रशिक्षित नर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (TNAI), नर्सिंग में रेड क्रॉस विधान।
  • माइक्रोबायोलॉजी: नर्सिंग में सूक्ष्म जीव विज्ञान के ज्ञान का दायरा और उपयोगिता, सूक्ष्मजीवों का वर्गीकरण और विकास को प्रभावित करने वाले कारक, संक्रमण के स्रोत, रोगाणुओं के प्रवेश और निकास के पोर्टल, संक्रमण का संचरण, नमूना संग्रह करते समय ध्यान में रखने के लिए नमूने और सिद्धांतों का संग्रह , प्रतिरक्षा, सूक्ष्म जीवों का नियंत्रण और विनाश
  • मनोविज्ञान: नर्सों के लिए परिभाषा, दायरा और महत्व, मानव व्यवहार का मनोविज्ञान: भावनाएं, दृष्टिकोण, निराशा और रक्षा तंत्र, व्यक्तित्व, खुफिया और संबंधित कारक, सीखना और अवलोकन।
  • समाजशास्त्र: नर्सिंग में समाजशास्त्र का महत्व। समुदाय के सामाजिक-सांस्कृतिक और आर्थिक पहलू और स्वास्थ्य और बीमारी में उनके प्रभाव। परिवार: एक सामाजिक संस्था के रूप में परिवार और स्वास्थ्य सेवा के लिए बुनियादी इकाई, परिवार की बुनियादी जरूरतें, नियोजित पितृत्व के लाभ। समाज: समाज की अवधारणा, ग्रामीण और शहरी समाज, सामाजिक समस्याएं, अविवाहित माताएं, दहेज प्रथा, नशीली दवाओं की लत, शराब, अपराध, विकलांग, बाल शोषण, घरेलू हिंसा, महिला दुर्व्यवहार, सामाजिक एजेंसियां ​​और उपचारात्मक उपाय। अर्थव्यवस्था: देश के संसाधन – प्राकृतिक, व्यावसायिक, कृषि, औद्योगिक, आदि। सामाजिक सुरक्षा: जनसंख्या विस्फोट – अर्थव्यवस्था पर इसका प्रभाव और जनसंख्या नियंत्रण की आवश्यकता, एक परिवार के लिए बजट, प्रति व्यक्ति आय और स्वास्थ्य और बीमारी पर इसका प्रभाव।
  • व्यक्तिगत स्वच्छता: स्वास्थ्य, शारीरिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वास्थ्य का रखरखाव।
  • पर्यावरण स्वच्छता: जल: सुरक्षित और स्वस्थ जल, जल का उपयोग, जल प्रदूषण, जल जनित रोग और जल शोधन। वायु: वायु प्रदूषण, वायु प्रदूषण की रोकथाम और नियंत्रण। अपशिष्ट: इन कचरे का कचरा, उत्सर्जन, सीवेज, स्वास्थ्य संबंधी खतरे कचरे का संग्रह, निष्कासन और निपटान, आवास, शोर।
  • नर्सिंग में कंप्यूटर: डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम, नर्सिंग में कंप्यूटर का उपयोग, इंटरनेट और नर्सिंग में ई-मेल।

UPPSC Staff Nurse Syllabus Download

UPPSC Staff Nurse Exam Pattern 2021

SubjectsNo of QuestionMarksTime Languages
General Hindi
General Knowledge
Main Subject Nursing
Total17085120 MinHindi/English

UPPSC Staff Nurse Book 2021

UPPSC Staff Nurse Solved Papers & Practice Book in HindiBuy Now
UPPSC Staff Nurse Solved Papers & Practice Book 2021Buy Now
Uttar Pradesh Staff Nurse Bharti ParikshaBuy Now
UPPSC Staff Nurse Sister Grade – 2 In Hindi 290 Pages Buy Now
UPPSC 2021 Staff Nurse Sister Grade 2 Entrance Exam In English 256 PagesBuy Now

ये भी पढ़े: NHM Chhattisgarh Previous Year Paper

FAQ

UPPSC Staff Nurse का Syllabus क्या है?

UPPSC Staff Nurse के Exam में General Hindi, General Knowledge, Main Subject Nursing जैसे विषय से प्रश्न पूछा जाता है।

UPPSC Staff Nurse का एग्जाम में कितने प्रश्न और कितने नंबर का पूछा जाता है?

UPPSC Staff Nurse के एग्जाम में 170 प्रश्न 85 नंबर का पूछा जाता है।

क्या UPPSC Staff Nurse के एग्जाम में Negative Marking होता है?

हाँ, अगर आप किसी प्रश्न का उत्तर गलत देते है तो आपके ⅓ मार्क्स काट लिए जायेंगे।

Conclusion

UPPSC Staff Nurse Exam को क्रैक करने के लिए भी अध्ययन समाग्री की जरूरत पड़ती है वो मैंने इस लेख के माध्यम से उपलब्ध करा दिया है। उम्मीद है की इस लेख को पढ़ने के बाद UPPSC Staff Nurse एग्जाम को क्रैक करना का जोश आप में बढ़ गया होगा। इस लेख में अगर कोई कमी आपको लगी हो तो आप हमे Comment Section में बता सकते है। हम जल्द ही उस कमी को दूर करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here